मेरी बिगड़ी बनाने वाला एक तू है भजन लिरिक्स

मेरी बिगड़ी बनाने वाला,
मेरी किस्मत जगाने वाला,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है ओ श्याम,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है।।

तर्ज – तुझे प्यार से देखने वाला।



तेरे सिवा श्याम मैं तो,

किसी को ना जानू,
दिन और रात मैं तो,
गुण तेरे गाउँ,
मुझे अपना समझने वाला,
मुझे गले से लगाने वाला,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है ओ श्याम,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है।।



तेरी दया से मेरा,

चलता गुजारा,
जब भी दुखो ने घेरा,
तुमको पुकारा,
मेरे दुखड़े मिटाने वाला,
आनंद बरसाने वाला,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है ओ श्याम,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है।।



अब तक निभाया है तो,

आगे भी निभाना,
बीच मझधार में तू,
छोड़ मत जाना,
मेरी नैया चलाने वाला,
‘रामा’ का तू ही रखवाला,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है ओ श्याम,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है।।



मेरी बिगड़ी बनाने वाला,

मेरी किस्मत जगाने वाला,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है ओ श्याम,
एक तू है एक तू है,
एक तू ही तो है।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें