मेरे नैनो की प्यास बुझादे अब तो मैया जी दरस करादे लिरिक्स

मेरे नैनो की प्यास बुझादे,
अब तो मैया जी दरस करादे,
तेरे दर आएंगे,
झोली फैलाएंगे,
मेरे नैनों की प्यास बुझादे,
अब तो मैया जी दरस करादे।।



तड़प रहा है मेरा मनवा,

सुना मेरे घर का अंगना,
अब तो आ जाओ मां,
कर दो अहसान मां,
मेरे नैनों की प्यास बुझादे,
अब तो मैया जी दरस करादे।।



मेरी अर्जी न ठुकराना,

मुझको मैया गले लगाना,
होके सिंघ पे सवार,
करदो मां बेड़ा पार,
मेरे नैनों की प्यास बुझादे,
अब तो मैया जी दरस करादे।।



मेरी मुरादें पूरी करदो,

अब तो मैया झोली भरदो,
तेरे दर आएंगे,
झोली फैलाएंगे,
मेरे नैनों की प्यास बुझादे,
अब तो मैया जी दरस करादे।।



मेरे नैनो की प्यास बुझादे,

अब तो मैया जी दरस करादे,
तेरे दर आएंगे,
झोली फैलाएंगे,
मेरे नैनों की प्यास बुझादे,
अब तो मैया जी दरस करादे।।

गायक / प्रेषक – शुभम गुप्ता।
9131320049


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें