मेरे कृष्णा तुम कहाँ हो भजन लिरिक्स

मेरे कृष्णा,
मेरे कृष्णा तुम कहाँ हो,
मेरे कृष्णा,
चला नाही जाए,
चला नाही जाऐ,
कब आओगे चला नाही जाए।।

तर्ज – मेरे मितवा तुम कहाँ हो।



दर तेरे आते आते,

नही रुक जाए ये साँसे,
तू आजा कृष्ण मेरे,
करो कुछ तो सहाय,
करो कुछ तो सहाय,
आ जाओ ना,
चला नाही जाए,
चला नाही जाए।।



तुम्हे कैसे मै पाऊँ,

प्रभू मै समझ न पाऊँ,
तुम्हे कैसे मनाऊँ,
तुम्हे क्या भेट चढ़ाए,
बतलाओ न,
चला नाही जाए,
चला नाही जाए।।



छोटा हूँ दास तुम्हारा,

जहाँ मे बेसहारा,
सिवा तेरे हमारा,
नजर कोई न आए,
नजर कोई न आए,
आजाओ न,
चला नाही जाए,
चला नाही जाए।।



मेरे कृष्णा,

मेरे कृष्णा तुम कहाँ हो,
मेरे कृष्णा,
चला नाही जाए,
चला नाही जाऐ,
कब आओगे चला नाही जाए।।

– भजन लेखक एवं प्रेषक –
श्री शिवनारायण वर्मा,
मोबा.न.8818932923

वीडियो उपलब्ध नहीं।


 

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें