मेरा श्याम दयालु है हारे का सहारा है भजन लिरिक्स

मेरा श्याम दयालु है,
हारे का सहारा है,
है वो नाथ अनाथों का,
डूबे का किनारा है,
मेरा श्याम दयालू है,
हारे का सहारा है।।

तर्ज – होंठों से छू लो तुम।



ढृढ़ है विश्वास तेरा,

वो निश्चित आएगा,
तेरा रक्षक बन कर के,
सब पीर मिटाएगा,
ये तो आदत है उनकी,
रोते को हँसाता है,
मेरा श्याम दयालू है,
हारे का सहारा है।।



करुणा के सागर हैं,

करुणा दिखलाते हैं,
जो करुण पुकार सुने,
करुणा कर आते हैं,
करुणा निधि उनको तो,
भव पार उतारा है,
मेरा श्याम दयालू है,
हारे का सहारा है।।



जो प्रेम बांटते हैं,

वो श्याम के प्रेमी हैं,
जो दया भाव रखते,
वो श्याम के नेमि हैं,
‘मनहर’ वो भक्त सदा,
बाबा का दुलारा है,
मेरा श्याम दयालू है,
हारे का सहारा है।।



मेरा श्याम दयालु है,

हारे का सहारा है,
है वो नाथ अनाथों का,
डूबे का किनारा है,
मेरा श्याम दयालू है,
हारे का सहारा है।।

Singer – Sanchi Tiwari


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें