मेरा सांवरा सलोना दिलदार लुटाने अपना प्यार आ गया लिरिक्स

मेरा सांवरा सलोना दिलदार,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
होके लीले पे देखो सवार,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
ये किरपा की करता बरसात,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
मेरा साँवरा सलोना दिलदार,
लुटाने अपना प्यार आ गया।।

तर्ज – गली में आज चाँद निकला।



पांडव कुल का ये अवतारी,

तीन बाण तरकश का धारी,
ये करता हारो का कल्याण,
ये करता हारो का कल्याण,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
मेरा साँवरा सलोना दिलदार,
लुटाने अपना प्यार आ गया।।



इसके द्वार पे जो कोई आता,

खाली झोली भर ले जाता,
इसको कहते है करुणा निधान,
इसको कहते है करुणा निधान,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
मेरा साँवरा सलोना दिलदार,
लुटाने अपना प्यार आ गया।।



हार के जो तेरे दर पे आता,

बांह पकड़ उसे जीत दिलाता,
‘संगीता’ करे गुणगान,
‘संगीता’ करे गुणगान,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
मेरा साँवरा सलोना दिलदार,
लुटाने अपना प्यार आ गया।।



मेरा सांवरा सलोना दिलदार,

लुटाने अपना प्यार आ गया,
होके लीले पे देखो सवार,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
ये किरपा की करता बरसात,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
लुटाने अपना प्यार आ गया,
मेरा साँवरा सलोना दिलदार,
लुटाने अपना प्यार आ गया।।

Singer – Ragini Chauhan


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें