मेहंदी माताजी रे मन भाई मेहंदी राचणी राजस्थानी भजन

मेहंदी माताजी रे मन भाई मेहंदी राचणी राजस्थानी भजन

मेहंदी माताजी रे मन भाई,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



माताजी चित्तोरगढ विराजे,

मेहंदी राचणी,
मेहंदी सोजत री मंगवाई हो,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी माता जी रे मन भाई ओ,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



माताजी रात जोगा में आवो,

मेहंदी राचणी,
संग में भैरूजी ने लावो,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी माता जी रे मन भाई ओ,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



मेहंदी सोना री कठोरी में,

मेहंदी राचणी,
मेहंदी नागणेची रे लगावो,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी माता जी रे मन भाई ओ,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



मेहंदी में जायफल ने जावत्री,

मेहंदी राचणी,
मेहंदी रंग हाथो में लावे,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी माता जी रे मन भाई ओ,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



सवंसा परिवार मेहंदी मोलावे रे,

मेहंदी राचणी,
सोंताजी नारसाजी रा जाया रे,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी माता जी रे मन भाई ओ,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



मेहंदी सात सुहानी लगावे रे,

मेहंदी राचणी,
मेहंदी ने श्याम पालीवाल गावे रे,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी माता जी रे मन भाई ओ,
मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।



मेहंदी माताजी रे मन भाई,

मेहंदी राचणी,
मेहंदी रा हरिया हरिया पान,
मेहंदी राचणी।।

“श्रवण सिंह राजपुरोहित द्वारा प्रेषित”
सम्पर्क : +91 9096558244


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें