मंदिर में आओ मोहन दर्शन को भीड़ है भजन लिरिक्स

मंदिर में आओ मोहन,
दर्शन को भीड़ है,
सेवकिया बुलावे प्यारा,
थारी ही उडीक है,
मंदिर में आओं मोहन।।

तर्ज – मेरी जो लाज है।



धीरे धीरे चलना,

हमें देगा दर्शन बाबा,
आता ही होगा,
वो पहन केसरिया बागा,
दीवाने तेरे नाम के,
तुमसे उम्मीद है,
सेवकिया बुलावे प्यारा,
थारी ही उडीक है,
मंदिर में आओं मोहन।।



तू प्यारा तेरा नाम भी प्यारा,

सबको तेरा सहारा,
बिच भंवर में जो भी डोले,
उसको पार उतारा,
विष भी अमृत धार है,
जिनको तुमसे प्रीत है,
सेवकिया बुलावे प्यारा,
थारी ही उडीक है,
मंदिर में आओं मोहन।।



आकाश है नीला नीला,

घोडा लीले की असवारी,
हाथ में प्यारी मोरछड़ी,
हिरा जड़ी कटारी,
क्या गजब श्रृंगार है,
हम सब मुरीद है,
सेवकिया बुलावे प्यारा,
थारी ही उडीक है,
मंदिर में आओं मोहन।।



जिसको तू बुलाता,

वो ही चलके आता,
तेरे नचाए नाचे,
तू हाथ पकड़ के नचाता,
Bhajan Diary,
सुदामा गरीब के,
‘सज्जन’ ये गीत है,
सेवकिया बुलावे प्यारा,
थारी ही उडीक है,
मंदिर में आओं मोहन।।



मंदिर में आओ मोहन,

दर्शन को भीड़ है,
सेवकिया बुलावे प्यारा,
थारी ही उडीक है,
मंदिर में आओं मोहन।।

Singer – Priyanka Vashishta


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें