कोई देवता नही है भोले नाथ की तरह भजन लिरिक्स

कोई देवता नही है,
भोले नाथ की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह।।

तर्ज – एहसान मेरे दिल पे तुम्हारा है।



शिव ने हमारे वास्ते,

क्या क्या नहीं किया,
सौ बार शुक्रिया है,
सौ सौ बार शुक्रिया,
रखते खयाल मेरा,
औलाद की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह।।



अहसान इनके लाखों है,

कितने मैं गिनाऊँ,
किस किस को बताऊँ,
और क्या क्या मैं बताऊँ,
ये लाज मेरी समझे,
अपनी लाज की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह।।



अब माँगने को हाथ,

ये उठते नही मेरे,
कहता ‘पवन’ अब कोई,
चिंता नहीं घेरे,
रहे संग ये हमेशा,
मेरी साँस की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह।।



कोई देवता नही है,

भोले नाथ की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह,
लूटाते है खजाना बरसात की तरह।।

Singer – Saurabh Madhukar


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें