करो ओमावो सतगुरू श्याम रो देसी भजन लिरिक्स

आज ओमावो म्हारे मन भायो,
सुरता स्वामी जी से लागी,
नैन निर्ख्यो इण नाथ नो,
मोहिले री भ्रमणा भागी,
करो ओमावो सतगुरू श्याम रो,
जीए निर्भय नाम रो,
साचे श्याम रो जी।।



ईए जैसाने रे कुंगरे,

चढ़ मैं ओमावो गायों,
ओठे निजारी बाबो नाथ बसे,
शरनो में शीश नमायो,
करो ओमावों सतगुरू श्याम रो,
जीए निर्भय नाम रो,
साचे श्याम रो जी।।



ईए अमरोने रे वाड़ीये,

मोयो चंपेला रो फूल,
जाय जगायो वन रा माली ने,
कर थारे फल को मोल,
करो ओमावों सतगुरू श्याम रो,
जीए निर्भय नाम रो,
साचे श्याम रो जी।।



माली केवे फल महंगो मिले,

लाखो करोड़ो रे मोल,
अनेक गुणों से फल आगले,
सुर तेंतीसो रो तोल,
करो ओमावों सतगुरू श्याम रो,
जीए निर्भय नाम रो,
साचे श्याम रो जी।।



ले अमरफल चालिया,

पूगा नगर निंजार,
बाबों डुंगर पुरी जी बोलिया,
दर्शया दसवें द्वार,
करो ओमावों सतगुरू श्याम रो,
जीए निर्भय नाम रो,
साचे श्याम रो जी।।



आज ओमावो म्हारे मन भायो,

सुरता स्वामी जी से लागी,
नैन निर्ख्यो इण नाथ नो,
मोहिले री भ्रमणा भागी,
करो ओमावो सतगुरू श्याम रो,
जीए निर्भय नाम रो,
साचे श्याम रो जी।।

Singer – Vikram Barmeri
8302031687


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें