झूम रहा सारा कैलाश भोले जी की भक्ति में लिरिक्स

झूम रहा सारा कैलाश भोले जी की भक्ति में लिरिक्स

झूम रहा सारा कैलाश,
भोले जी की भक्ति में,
भोले जी की भक्ति में,
भोले जी की भक्ति में,
झूम रहा सारा कैंलाश,
भोले जी की भक्ति में।।



डम डम डम डम डमरू बाजे,

मस्त मगन शिव भोला नाचे,
डम डम डम डम डमरू बाजे,
मस्त मगन शिव भोला नाचे,
बम बम की गूंजे जयकार,
भोले जी की भक्ति में,
झूम रहा सारा कैंलाश,
भोले जी की भक्ति में।।



नंदी नाचे भ्रंगी नाचे,

गणपति संग में कार्तिक नाचे,
नंदी नाचे भ्रंगी नाचे,
गणपति संग में कार्तिक नाचे,
नाचे है देखो गंगधार,
भोले जी की भक्ति में,
झूम रहा सारा कैंलाश,
भोले जी की भक्ति में।।



माथे का चंदा भी झूमे,

गंगधारा चरणों को चूमे,
माथे का चंदा भी झूमे,
गंगधारा चरणों को चूमे,
मस्ती है देखो अपार,
भोले जी की भक्ति में,
झूम रहा सारा कैंलाश,
भोले जी की भक्ति में।।



झूम रहा सारा कैलाश,

भोले जी की भक्ति में,
भोले जी की भक्ति में,
भोले जी की भक्ति में,
झूम रहा सारा कैंलाश,
भोले जी की भक्ति में।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें