जेलों नेम भेम नहीं मन में पग पाछो मत मेलो

जेलों नेम भेम नहीं मन में,
पग पाछो मत मेलो,
कनीरामजी प्रेम प्यालो जेलों।।



परमारथ की सार बताई माने,

दियो धर्म को हेलो,
जो सुख छावो जन्म मरण को,
चंद्रकला संग खेलो,
कनीरामजी प्रेम प्यालो जेलों।।



तन मन धन मारा गुरूजी ने सुपीया,

मन ने वियों मारो मेलो,
परवानिया के भेला रमिया,
जद माने पद प्रखायो पेलो,
कनीरामजी प्रेम प्यालो जेलों।।



करणी काट राम घर आये,

अब मारो लेखो बनेलो,
लाख चौरासी मु बाहर काड़िया,
अब नहीं कोई जन्म धरेलो,
कनीरामजी प्रेम प्यालो जेलों।।



पदम गुरु प्रवाणी मिलिया,

मे पदम रामजी को चलो,
गुर्जर गरीबी मे कनीरामजी बोले,
अब अमरापुर मे मारो हेलो,
कनीरामजी प्रेम प्यालो जेलों।।



जेलों नेम भेम नहीं मन में,

पग पाछो मत मेलो,
कनीरामजी प्रेम प्यालो जेलों।।

गायक – राधेश्याम गुर्जर सोपुरा।
8875483454


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

कागलिया गेरो रे मिठो बोल गुरु सा आवेला जद पावणा लिरिक्स

कागलिया गेरो रे मिठो बोल गुरु सा आवेला जद पावणा लिरिक्स

कागलिया गेरो रे मिठो बोल, गुरु सा आवेला जद पावणा, आवेला जद पावणा, आवेला जद पावणा, कागलियां गेरो रे मीठे बोल, गुरुसा आवेला जद पावणा।। सोने चौच मंडाय दु थारी,…

जन्माष्टमी भजन लिरिक्स

जन्माष्टमी भजन लिरिक्स

जन्माष्टमी भजन लिरिक्स, मित्रों, सर्वप्रथम आप सभी को भजन डायरी टीम की ओर से, जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाए। भगवान श्री कृष्ण की कृपा हम आप पर बनी रहे। इस पोस्ट…

मूल महल में बसे गजानन नित उठ दर्शन पाता

मूल महल में बसे गजानन नित उठ दर्शन पाता

मूल महल में बसे गजानन, नित उठ दर्शन पाता। दोहा – सुंडाला दुःख भंजना, सदा निवाला वेश, सारो पहला सुमरिये, गवरी नन्द गणेश। मूल महल में बसे गजानन, नित उठ…

जसोल री धनियारी मोटो देवरो सा माजीसा भजन लिरिक्स

जसोल री धनियारी मोटो देवरो सा माजीसा भजन लिरिक्स

जसोल री धनियारी, मोटो देवरो सा, थारे देवलिया में, थारे मंदरया में, जागी जगमग जोत, ओ माजीसा मोटो देवरो सा, जसोल री धनियारी, मोटो देवरो सा।। थारे घेर ने घुमारो,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे