जय जयकार श्याम जी की दुनिया में होरी से लिरिक्स

जय जयकार श्याम जी की,
दुनिया में होरी से,
श्याम की दीवानी सारी,
दुनिया ये होरी से,
जय जयकार श्यामजी की,
दुनिया मे होरी से।।



श्याम खाटू वाला,

मालामाल कर देता,
प्रेमियो के दूर,
जंजाल कर देता,
भर दे भंडार प्यारे,
भर दे भंडार,
कोई कमीं ना होरी से,
जय जयकार श्यामजी की,
दुनिया मे होरी से।।



श्याम जी से तू भी प्यारे,

नज़रे मिला ले,
दिलवाले से तू थोड़ा,
दिल ये लगा ले,
दिल को संभाल प्यारे,
दिल को संभाल,
करले दिल की ये चोरी से,
जय जयकार श्यामजी की,
दुनिया मे होरी से।।



प्रेम की गंगा में,

डूबकी लगा ले,
श्याम खाटू वाले को,
अपना बना ले,
पल मे खुलेगी प्यारे,
पल मे खुलेगी,
तेरी किस्मत जो सोरी से,
जय जयकार श्यामजी की,
दुनिया मे होरी से।।



नाम श्याम जी का,

सोने पे सुहागा,
श्याम जपे जो ‘दीपक’,
रहे ना अभागा,
मनचाहा सा होता प्यारे,
मनचाहा सा होता,
फुल किरपा सी होरी से
जय जयकार श्यामजी की,
दुनिया मे होरी से।।



जय जयकार श्याम जी की,

दुनिया में होरी से,
श्याम की दीवानी सारी,
दुनिया ये होरी से,
जय जयकार श्यामजी की,
दुनिया मे होरी से।।

Singer / Upload – Kunwar Deepak
8700018045