जब कोई साथ ना देता तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ

जब कोई साथ ना देता,
जब कोई रस्ता ना मिलता,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ,
ना कोई है ना कोई था,
ज़िंदगी में तुम्हारे सिवा,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ।।

तर्ज – जब कोई बात बिगड़ जाए।



हो घनी अंधियारी रात,

या हो तूफां बरसात,
तूने दिया है मेरा साथ,
ना छोड़ा मेरा हाथ,
जब कोईं साथ ना देता,
जब कोई रस्ता ना मिलता,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ।।



जब मन मेरा घबराए,

हर ओर अंधेरा छाए,
तू पास मेरे आ जाए,
मुझे अपने गले लगाए,
जब कोईं साथ ना देता,
जब कोई रस्ता ना मिलता,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ।।



तू जीवन और तू प्राण,

तू ही मेरा अभिमान,
तू पल में कर देती है,
हर मुश्किल को आसान,
जब कोईं साथ ना देता,
जब कोई रस्ता ना मिलता,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ।।



जब कोई साथ ना देता,

जब कोई रस्ता ना मिलता,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ,
ना कोई है ना कोई था,
ज़िंदगी में तुम्हारे सिवा,
तुम देती मेरा साथ ओ मेरी माँ।।

Singer / Lyrics / Upload
Mayank Soni – Bikaner
9414324964


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें