होरी में लाज न कर गोरी होरी में भजन लिरिक्स

होरी में लाज न कर गोरी होरी में,
हां जी होरी में, हम्बे होरी में,
होरी में लाज न कर गोरी होरी में।।

तर्ज – नैना लड़ गए श्याम सलोने से।



हम ब्रज के रसिया तुम गोरी,

हम ब्रज के रसिया तुम गोरी,
हाँ हाँ रे रसिया,
ओ प्यारे रसिया,
हम ब्रज के रसिया तुम गोरी,
भली बनी है ये जोरि,
अरी भली बनी है ये जोरि होरी में,
होरी में लाज न कर गोरी होरी में।।



जो हमसो सूधो नाही खेले,

जो हमसो सूधो नाही खेले,
हाँ हाँ रे रसिया,
ओ प्यारे रसिया,
जो हमसो सूधो नाही खेले,
यार करेंगे बरजोरी,
हम यार करेंगे बरजोरी होरी में,
होरी में लाज न कर गोरी होरी में।।



नारायण अब निकसो द्वार पे,

नारायण अब निकसो द्वार पे,
हाँ हाँ रे रसिया,
ओ प्यारे रसिया,
नारायण अब निकसो द्वार पे,
छूटो नहीं बनके भोरी,
अरी छूटो नहीं बनके भोरी होरी में,
होरी में लाज न कर गोरी होरी में।।



होरी में लाज न कर गोरी होरी में,

हां जी होरी में, हम्बे होरी में,
होरी में लाज न कर गोरी होरी में।।

Singer : Sadhvi Purnima Didi


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें