प्रथम पेज फिल्मी तर्ज भजन हर पल तुम्हारी याद आती रहे राघव भजन लिरिक्स

हर पल तुम्हारी याद आती रहे राघव भजन लिरिक्स

हर पल तुम्हारी याद,
आती रहे राघव, आती रहे,
तेरी छवि मन को,
लुभाती रही,
हर पल तुम्हारीं याद,
आती रहे राघव, आती रहे।।

तर्ज – रब ने बनाया तुझे मेरे लिए।



फूलों और कलियों में तेरी हंसी हो,

बुलबुल के गीतों में तेरी ख़ुशी हो,
वाणी तेरे गुण गाती रहे,
हर पल तुम्हारीं याद,
आती रहे राघव, आती रहे।।



कुछ भी नहीं था सिवा तेरे प्यारे,

जो कुछ भी था सब तेरे हवाले,
नैनो में तेरी छवि समाती रहे,
हर पल तुम्हारीं याद,
आती रहे राघव, आती रहे।।



प्रभु हम भक्तों की चाह यही है,

श्री राम मिलन की आस यही है,
जिव्हा ये नाम गुनगुनाती रहे,
हर पल तुम्हारीं याद,
आती रहे राघव, आती रहे।।



हर पल तुम्हारी याद,

आती रहे राघव, आती रहे,
तेरी छवि मन को,
लुभाती रही,
हर पल तुम्हारीं याद,
आती रहे राघव, आती रहे।।

स्वर – श्रीनिवास रामानुज।
प्रेषक – मंदीप जी बैरागी।


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।