गुरुवर टेकचंद जी जैसा जग में सेठ कोई नी भजन लिरिक्स

गुरुवर टेकचंद जी जैसा जग में सेठ कोई नी,
कड़छा धाम पे आई ने खाली जावे कोई नी,
यहां आई ने भक्ता की खाली मौज होए नी,
कड़छा धाम पे आई ने खाली जावे कोई नी।।



गुरूवर तो आज म्हारा सेठ बण्या है,

कड़छा का मंदिर टेकचंद जी बैठ्या है।
आज माँग लो सब थे तो मन चाहो जोई भी,
कड़छा धाम पे आई ने खाली जावे कोई नी।।



भगत रंग्या भगवान रंग्या है,

भक्ता का मन में गुरुदेव बस्या है।
नवयुवक संग में आज सबकी मौज होए नी,
कड़छा धाम पे आई ने खाली जावे कोई नी।।



गुरुवर टेकचंद जी जैसा जग में सेठ कोई नी,

कड़छा धाम पे आई ने खाली जावे कोई नी,
यहां आई ने भक्ता की खाली मौज होए नी,
कड़छा धाम पे आई ने खाली जावे कोई नी।।

– Singer and Writer –
Prashant chawda Nagda Dhar Mp
8269337454


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें