गोपाल का जन्म दिन आज ते भंगडा मेनू पा लैण दो

गोपाल का जन्म दिन आज,
ते भंगडा मेनू पा लैण दो,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो,
गोंपाल का जन्म दिन आज,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो।।



साढ़े दिला विच खुशियां छाई,

घर घर आज मैं बटीया मिठाई,
कैसा जच दा यशोदा दा लाल,
ते भंगडा मेनू पा लैण दो,
गोंपाल का जन्म दिन आज,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो।।



सौणा सौणा रूप सुहावे,

ठुमक ठुमक जदो नाच दिखावे,
मैं सुण ली मुरली दी तान,
ते भंगडा मेनू पा लैण दो,
गोंपाल का जन्म दिन आज,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो।।



दुनिया को यो प्रेम सिखावें,

साडा मन नचदा ही जावे,
तुम भी कर लो जी अब ऐतबार,
ते भंगडा मेनू पा लैण दो,
गोंपाल का जन्म दिन आज,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो।।



भगतो दिल विच आनन्द छाया,

होता सुरेन्द्र भजन है गाया,
कैसी मची है जय जय कार,
ते भंगडा मेनू पा लैण दो,
गोंपाल का जन्म दिन आज,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो।।



गोपाल का जन्म दिन आज,

ते भंगडा मेनू पा लैण दो,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो,
गोंपाल का जन्म दिन आज,
पा लेन दे भांगड़ा पा लैण दो।।

– गायक एवं प्रेषक –
सुरेन्द्र सिंह प्रधान निठौरा
9999641853


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें