फुर्सत मिले तो कान्हा निर्धन के घर भी आना भजन लिरिक्स

फुर्सत मिले तो कान्हा,
निर्धन के घर भी आना।।

तर्ज – तेरे नाम का दीवाना।



सुमिरण करूँ मैं हरपल तेरा,

दुःख ताप हर लीजियेगा मेरा,
बैरी बना जमाना,
बैरी बना जमाना,
तू भी ना भूल जाना,
फुरसत मिले तो कान्हा,
निर्धन के घर भी आना।।



कर देना पूरी ये आरजू,

मैं हूँ तेरा और मेरा है तू,
इस रीत को निभाना,
इस रीत को निभाना,
मुझको गले लगाना,
फुरसत मिले तो कान्हा,
निर्धन के घर भी आना।।



जो भी दिया रुखा सूखा मुझे,

अर्पण करूँ श्याम वो ही तुझे,
आकर के भोग पाना,
आकर के भोग पाना,
मुझे ‘बावरा’ बनाना,
फुरसत मिले तो कान्हा,
निर्धन के घर भी आना।।



फुर्सत मिले तो कान्हा,

निर्धन के घर भी आना।।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

खाटू गाँव में उड़ रही धुल धुल मोहे प्यारी लगे भजन लिरिक्स

खाटू गाँव में उड़ रही धुल धुल मोहे प्यारी लगे भजन लिरिक्स

खाटू गाँव में उड़ रही धुल, धुल मोहे प्यारी लगे। दोहा – खाटू के गाँव में, बस्या म्हारा घनश्याम, जिसकी चरण धूलि से, बन जाता बिगड़ा काम। खाटू गाँव में…

आजादी दिवस है आया हर घर पे तिरंगा लहराया लिरिक्स

आजादी दिवस है आया हर घर पे तिरंगा लहराया लिरिक्स

आजादी दिवस है आया, हर घर पे तिरंगा लहराया, भारत वासी हर्षाया, हर दिल में यह दिन भाया, आओ आओ सब मिल, बोलो जय जय हिन्द, मेरे देशवासियों, शहीदों को…

रिमझिम सी बरसातों में कान्हा जन्मे आधी रात लिरिक्स

रिमझिम सी बरसातों में कान्हा जन्मे आधी रात लिरिक्स

रिमझिम सी बरसातों में, कान्हा जन्मे आधी रात, की नन्द बाबा नाच रहे, रिमझिम सी बरसातो में।। तर्ज – याद पिया की आने लगी। झूमे यशोदा का अंगना, नन्द लाला…

तेरे संग श्याम नाता नहीं तोड़ना भजन लिरिक्स

तेरे संग श्याम नाता नहीं तोड़ना भजन लिरिक्स

तेरे संग श्याम नाता नहीं तोड़ना, तेरे लिए चाहे पड़े जग छोड़ना, तेरे संग श्याम नाता नही तोड़ना, तेरे लिए चाहे पड़े जग छोड़ना।। तर्ज – तेरे संग प्यार मैं…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे