दयालु हो दया करके संभालो भजन लिरिक्स

दयालु हो दया करके,
संभालो,
कहीं हम डूब ना जाए,
बचा लो,
दयालु हों दया करके,
संभालो।।



यह गहरा है समंदर,

कहीं तूफान का डर,
ये बिसराई हैं लहरें,
इधर भी तो नजर कर,
दयालु हों दया करके,
संभालो।।



यह कैसा है अंधेरा,

समय जैसे है ठहरा,
रहम कर दे ऐ मालिक,
के कर दो अब सवेरा,
दयालु हों दया करके,
संभालो।।



ये तेरा नाम है पावन,

तू ही करता है पालन,
के बरसा दे जरा तू,
तेरी किरपा का सावन,
दयालु हों दया करके,
संभालो।।



है दिल की आरजू ये,

प्रभु इतनी सी सुनले,
के माझी बन के ‘निर्मल’,
की नैया पार कर दे,
Bhajan Diary Lyrics,
दयालु हों दया करके,
संभालो।।



दयालु हो दया करके,

संभालो,
कहीं हम डूब ना जाए,
बचा लो,
दयालु हों दया करके,
संभालो।।

Singer – Manoj Mishra


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें