प्रथम पेज दुर्गा माँ भजन दादी को नाम अनमोल बोलो जय दादी की लिरिक्स

दादी को नाम अनमोल बोलो जय दादी की लिरिक्स

दादी को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की,
मैया को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की।।

तर्ज – राधा को नाम अनमोल।



गंगा भी बोले दादी,

यमुना भी बोले दादी,
गंगा भी बोले दादी,
यमुना भी बोले दादी,
सरयू की धार से आवाज आए,
जय दादी की,
दादीं को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की।।



धरती भी बोले दादी,

अम्बर भी बोले दादी,
धरती भी बोले दादी,
अम्बर भी बोले दादी,
झुंझनू के कण कण से आवाज आए,
जय दादी की,
दादीं को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की।।



ब्रम्हा भी बोले दादी,

विष्णु भी बोले दादी,
ब्रम्हा भी बोले दादी,
विष्णु भी बोले दादी,
शंकर के डमरू से आवाज आए,
जय दादी की,
दादीं को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की।।



सूरज भी बोले दादी,

चंदा भी बोले दादी,
सूरज भी बोले दादी,
चंदा भी बोले दादी,
तारों के मंडल से आवाज आए,
जय दादी की,
दादीं को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की।।



दादी को नाम अनमोल,

बोलो जय दादी की,
मैया को नाम अनमोल,
बोलो जय दादी की।।

स्वर – सौरभ मधुकर।


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।