छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना भजन लिरिक्स

छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना लख्खा जी भजन लिरिक्स

छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना,
कहते है लोग इसे राम का दीवाना।।

राम राम सियाराम,
राम राम सियाराम।



पाँव मे घुंगूरू बाँध के नाचे ,
हाथों में खंजरी बांध के नाचे,

राम जी का नाम इन्हे प्यारा लागे,
राम जी ने देखो इन्हे खूब पहचाना,
छम-छम नाचे देखों वीर हनुमाना,
कहते है लोग इसे राम का दीवाना।।

राम राम सियाराम,
राम राम सियाराम।



जहाँ जहाँ कीर्तन होता श्री राम का,

लगता है पहरा वहीं वीर हनुमान का,
राम जी के चरणों में इनका ठिकाना,
छम छम नाचे देखों वीर हनुमाना,
कहते है लोग इसे राम का दीवाना।।

राम राम सियाराम,
राम राम सियाराम।



नाच नाच श्री राम को रिझावे,

बनवारी रात दिन नाचता ही जाए,
भक्तो मे भक्त बड़ा दुनिया ने माना,
छम-छम नाचे देखो वीर हनुमाना,
कहते है लोग इसे राम का दीवाना।।

राम राम सियाराम,
राम राम सियाराम।


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें