बोलो कहाँ मैं जाऊं तुझे देखने के बाद भजन लिरिक्स

बोलो कहाँ मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद,
पलके झुका ना पाऊं,
तुझे देखने के बाद,
बोलो कहां मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद।।

तर्ज – किससे नजर मिलाऊं।



जीवन बदल गया मेरा,

दृष्टि बदल गई है,
जीवन बदल गया मेरा,
दृष्टि बदल गई है,
किस दर पे सर झुकाऊं,
तुझे देखने के बाद,
बोलो कहां मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद।।



नजरों से तूने बाबा,

बातें जो मुझसे कर ली,
नजरों से तूने बाबा,
बातें जो मुझसे कर ली,
किससे नजर मिलाऊं,
तुझे देखने के बाद,
बोलो कहां मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद।।



दामन को भर दिया है,

करुणा की नेमतों से,
दामन को भर दिया है,
करुणा की नेमतों से,
अब क्या तुझे बताऊँ,
तुझे देखने के बाद,
बोलो कहां मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद।।



‘चोखानी’ चाहता है,

आठों पहर की सेवा,
‘चोखानी’ चाहता है,
आठों पहर की सेवा,
तुझमे ही खोता जाऊं,
तुझे देखने के बाद,
बोलो कहां मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद।।



बोलो कहाँ मैं जाऊं,

तुझे देखने के बाद,
पलके झुका ना पाऊं,
तुझे देखने के बाद,
बोलो कहां मैं जाऊं,
तुझे देखने के बाद।।

Singer – Pankaj Pandit


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें