बरसाने में बजत बधाई रानी कीरत ने कन्या जाई लिरिक्स

बरसाने में बजत बधाई,
रानी कीरत ने कन्या जाई,
भानु बाबा ने सम्पति लुटाई,
रानी कीरत ने कन्या जाई।।

तर्ज – मनिहारी का भेष बनाया।



नंदीश्वर पे खबर पड़ी है,

बरसाने की प्यारी घडी है,
मैया जशोदा कन्हैया ले आई,
रानी कीरत ने कन्या जाई,
बरसानें में बजत बधाई,
रानी कीरत ने कन्या जाई।।



देख लाली को लाला निहार्यो,

विधना पे हूँ पल्लो पसार्यो,
जोड़ी कैसी ये सुन्दर बनाई,
रानी कीरत ने कन्या जाई,
बरसानें में बजत बधाई,
रानी कीरत ने कन्या जाई।।



बरसाने में बजत बधाई,

रानी कीरत ने कन्या जाई,
भानु बाबा ने सम्पति लुटाई,
रानी कीरत ने कन्या जाई।।

स्वर – श्री हित अम्बरीषजी महाराज।


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें