बैठा हूँ आस लगाए सरकार ना आए भजन लिरिक्स

बैठा हूँ आस लगाए,
सरकार ना आए,
अब थाम लो पतवार,
बेड़ा पार हो जाए,
बेड़ा पार हो जाए।।

तर्ज – अफसाना लिख रही हूँ।



किसको पुकारूँ सांवरे,

कुछ सूझता नहीं,
कुछ सूझता नहीं,
बस एक नज़र किरपा की,
दिलदार हो जाए,
अब थाम लो पतवार,
बेड़ा पार हो जाए,
बेड़ा पार हो जाए।।



कमजोर मेरे हाथ है,

कश्ती पुरानी है,
कश्ती पुरानी है,
मुझ पे भी देव दयालु,
उपकार हो जाए,
अब थाम लो पतवार,
बेड़ा पार हो जाए,
बेड़ा पार हो जाए।।



लाखों उबारे आपने,

मुझको उबार लो,
मुझको उबार लो,
मेरी उम्मीदों का सपना,
साकार हो जाए,
अब थाम लो पतवार,
बेड़ा पार हो जाए,
बेड़ा पार हो जाए।।



ऐ श्याम जीवन डोर,

अब तेरे हाथ है,
अब तेरे हाथ है,
तेरे ‘हर्ष’ भगत का कान्हा,
उद्धार हो जाए,
अब थाम लो पतवार,
Bhajan Diary,

बेड़ा पार हो जाए,
बेड़ा पार हो जाए।।



बैठा हूँ आस लगाए,

सरकार ना आए,
अब थाम लो पतवार,
बेड़ा पार हो जाए,
बेड़ा पार हो जाए।।

Singer – Saurabh Madhukar


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

दीवाना राधे का मुरली वाला श्याम भजन लिरिक्स

दीवाना राधे का मुरली वाला श्याम गुजरिया नचले रे भजन लिरिक्स

दीवाना राधे का, दिवाना राधे का, मुरली वाला श्याम, गुजरिया नचले रे, गुजरिया नचले रे, गोवर्धन के नाम, दीवाना राधे का।। राधे राधे जपता है, सखियों से कहता है, प्यारी…

करता हूँ माँ मैं वंदन भजन लिरिक्स

करता हूँ माँ मैं वंदन भजन लिरिक्स

करता हूँ माँ मैं वंदन, मुझे ज्ञान का दो दर्पण, मेरी ज़िंदगी सँवर जाए, मेरी ज़िंदगी सँवर जाए, करता हूँ पुष्प अर्पण, मुझे दे दो मैया दर्शन, मेरा भाग्य भी…

तेरा मोहन माटी खा गया कि करिए कि करिए भजन लिरिक्स

तेरा मोहन माटी खा गया कि करिए कि करिए भजन लिरिक्स

तेरा मोहन माटी खा गया, कि करिए कि करिए (तर्ज :- दिल चोरी सांटा हो …) दोहा  लेकर माटी के ढेला श्याम ने, लिया मुख मेँ डार। करने शिकायत पहुँच…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे