बचपन से चाहे तुझे भूल नहीं जाना रे भजन लिरिक्स

बचपन से चाहे तुझे,
भूल नहीं जाना रे,
खाटू वाले सांवरे,
हम है तेरे बावरे,
बचपन से चाहे चाहें,
भूल नहीं जाना रे,
खाटू तेरा धाम है,
बाबा श्याम नाम है,
बचपन से आए खाटू,
भूल नहीं जाना रे।।

तर्ज – बचपन का प्यार।



पहले पहल जब मैं आया था,

दर्शन तुम्हारा प्यारा पाया था,
आँखों में बस गई तेरी झांकी,
अपना दीवाना बनाया था,
मैं हूँ तेरा दीवाना,
जग से बाबा अंजाना,
मैं हूँ तेरा दीवाना,
जग से बाबा अंजाना,
तुझको ही अपना माना,
भूल नहीं जाना रे,
बचपन से आए खाटू,
भूल नहीं जाना रे।।



खाटू की गलियों में घुमा मैं,

भजनों में बाबा के झूमा मैं,
भक्तो की मस्ती को देखा जो,
चिंता को सारी ही भुला मैं,
सर पे तेरा हाथ है,
तू तो मेरे साथ है,
सर पे तेरा हाथ है,
तू तो मेरे साथ है,
ऐसे ही रहना बाबा,
भूल नहीं जाना रे,
बचपन से आए खाटू,
भूल नहीं जाना रे।।



सारी उमरिया मैं गाऊंगा,

तुमको मैं श्याम जी मनाऊंगा,
खुद भी खाटू जाऊंगा,
भक्तो को साथ लेके आऊंगा,
‘मित्तल’ तेरा दास है,
श्याम मेरे पास है,
इतना ही चाहूँ बाबा,
भूल नहीं जाना रे,
Bhajan Diary Lyrics,
बचपन से आए खाटू,
भूल नहीं जाना रे।।



बचपन से चाहे तुझे,

भूल नहीं जाना रे,
खाटू वाले सांवरे,
हम है तेरे बावरे,
बचपन से चाहे चाहें,
भूल नहीं जाना रे,
खाटू तेरा धाम है,
बाबा श्याम नाम है,
बचपन से आए खाटू,
भूल नहीं जाना रे।।

Singer – Kanhiya Mittal


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें