अखियों से दिल में उतरना भजन लिरिक्स

बाबा धीरे धीरे,
अखियों से दिल में उतरना,
थोड़ा मैं सम्भल जाऊं,
थोड़ा है निखरना,
बाबा धीरे धीरे,
अँखियों से दिल में उतरना।।

तर्ज – यारा सिली सिली।



नई नई मैंने तोसे,

प्रीत लगाई रे,
बड़ी मुश्किल से ये,
दुनिया भुलाई रे,
कैसी तेरी माया है,
थोड़ा है समझना,
बाबा धीरे धीरे,
अँखियों से दिल में उतरना।।



कैसे जोड़ूँ भाव के मैं,

तार को सांवरिया,
अभी है बसानी तेरी,
प्यार की नगरीया,
अभी जीना सीखा है,
हाय थोड़ा मरना,
Bhajan Diary Lyrics,
बाबा धीरे धीरे,
अँखियों से दिल में उतरना।।



बाबा धीरे धीरे,

अखियों से दिल में उतरना,
थोड़ा मैं सम्भल जाऊं,
थोड़ा है निखरना,
बाबा धीरे धीरे,
अँखियों से दिल में उतरना।।

Singer – Bhawna Pandit


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें