अरी तेरी होती कोन्या रीस मेरी मां जन्म देन आली

अरी तेरी होती कोन्या रीस,
मेरी मां जन्म देन आली।।



9 महीने तक बोझ मरे सै,

करडा हृदय खूब करै सै,
अरी तू सहती सो सो चीस,
मेरी मां जन्म देन आली,
अरि री तेरी होती कोन्या रीस,
मेरी मां जन्म देन आली।।



प्रेम भाव की खान कुहावै,

सब से बड़ी महान कुहावै,
अरि तेरा रूप जणू जगदीश,
मेरी मां जन्म देन आली,
अरि री तेरी होती कोन्या रीस,
मेरी मां जन्म देन आली।।



देवी देवता जितने जग में,

तेरा दर्जा ऊँचा सब में,
अरि ममता की गजब रहीस,
मेरी मां जन्म देन आली,
अरि री तेरी होती कोन्या रीस,
मेरी मां जन्म देन आली।।



जब तक धड़ मैं सॉस रहेगा,
रामधन बण तेरा दास रहेगा,
अरि ना हटे चरणों त शीश,
मेरी मां जन्म देन आली,
अरि री तेरी होती कोन्या रीस,
मेरी मां जन्म देन आली।।



अरी तेरी होती कोन्या रीस,

मेरी मां जन्म देन आली।।

Upload By – Maa Sarde Jagran


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें