​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता भजन लिरिक्स

1
2246
​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता भजन लिरिक्स

​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता,
तुझे श्याम अपना बनाया ना होता।।



ना होती तमन्ना हि, तेरे मिलन की,

अगर मेरे मन को तु, भाया ना होता,
​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता।।



लबो पे तेरा ये, तरना ना होता,

अगर तीर दिल से, चलाया ना होता,
​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता।।



ना फिरती मैं तेरे, लिए मारि मारि,

अगर तुने खुद ही, रुलाया ना होता,
​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता।।



तो मै भी निराशा में, आशा ना रखती,

किसी के लिये गर तु, आया ना होता,
​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता।।



ये बेदर्द दुनिया, मुझे कुछ तो कहती,

अगर तुने दिल से, बुलाया ना होता,
​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता।।



​अगर प्यार तेरे से पाया ना होता,

तुझे श्याम अपना बनाया ना होता।।