मेरे जीवन में खुशियों की सदा भरमार हो जाये

मेरे जीवन में खुशियों की सदा,
भरमार हो जाये,
अगर चरणों का राधा रानी के,
दीदार हो जाये।।

तर्ज – अगर दिलवर की रुसवाई।



ह्रदय में श्यामसुंदर के,

विराजें राधिका रानी,
छबीली लाडली राधा,
‘वो थी कान्हा की दीवानी’-2,
लगे मस्तक पे व्रज रज से मेरा,
उद्धार हो जाये।।



बिछाये नैन राहों में,

तेरे दरशन की चाहत है,
पिला दे जाम मस्ती का,
‘मिले दिल को जो राहत है”-2,
तेरे दरशन से ये जीवन मेरा,
गुलजार हो जाये।।



अगर किरपा जो हो जाये,

वो वृषभानु दुलारी का,
कली मन की भी खिल जाए,
‘झलक पा श्यामा प्यारी का’-2,
तो इस भवसिंधु से “परशुराम” भी,
भवपार हो जाये।।



मेरे जीवन में खुशियों की सदा,

भरमार हो जाये,
अगर चरणों का राधा रानी के,
दीदार हो जाये।।

लेखक एवं प्रेषक – परशुराम उपाध्याय।
श्रीमानस-मण्डल, वाराणसी।
मो-9307386438


 

इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

राधा राधा नाम हमको प्राणो से प्यारा है भजन लिरिक्स

राधा राधा नाम हमको प्राणो से प्यारा है भजन लिरिक्स

राधा राधा नाम, हमको प्राणो से प्यारा है, राधां राधां नाम, हमको प्राणो से प्यारा है, मेरे जीने का सहारा है, राधां राधां नाम।। तर्ज – एक तेरा साथ हमको।…

सपने में रात में आया मुरली वाला री भजन लिरिक्स

सपने में रात में आया मुरली वाला री भजन लिरिक्स

सपने में रात में आया, मुरली वाला री, मेरे दिल में बस ग्यो, श्याम जपू मैं माला री।। वो बोला सुन मेरी राधा, मैं तेरे बिना हूँ आधा, मेरी बंसी…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे