आओ जी आओ गुरुदेव म्हारे आंगणा जैन भजन लिरिक्स

आओ जी आओ गुरुदेव,
म्हारे आंगणा,
भगत है आया बुलाने गुरूजी,
आओ जी आओ गुरुदेंव,
म्हारे आंगणा।।

तर्ज – आओ जी आओ मैया।



मेरे गुरुवर थे आ जाओ,

आया हु पड़गाहन को,
अत्रों अत्रों तिष्ठो तिष्ठो,
कहकर तुम्हे मनाऊ में,
आओ जी आओ गुरुदेंव,
म्हारे आंगणा।।



उच्चासन पर आन विराजो,

चरण कमल में पखारू जी,
नवधा भक्ति करके गुरुवर,
अष्टद्रव्य चढ़ाउ में,
आओ जी आओ गुरुदेंव,
म्हारे आंगणा।।



करके पूजन थारी गुरुवर,

भवसागर तर जाऊ में,
तन मन शुद्धि वचन में शुद्धि,
धर आहार कराऊ में,
आओ जी आओ गुरुदेंव,
म्हारे आंगणा।।



आओ जी आओ गुरुदेव,

म्हारे आंगणा,
भगत है आया बुलाने गुरूजी,
आओ जी आओ गुरुदेंव,
म्हारे आंगणा।।

गायक / प्रेषक – दिनेश जैन एडवोकेट।
8370099099


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें