तेरे भरोसे जीवन मेरा बाबा खाटू वाले भजन लिरिक्स

0
517
बार देखा गया
तेरे भरोसे जीवन मेरा बाबा खाटू वाले भजन लिरिक्स

तेरे भरोसे जीवन मेरा,
बाबा खाटू वाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले।।

तर्ज – मेरे नैना सावन भादो।



गहरी विरानी है,

दुनिया बेगानी है,
अपनो का दिल में,
दर्द छुपाए,
कैसे जीवन जीते,
गम के आँसू पीते,
मुझको सहारा,
बस इक तुम्हारा,
ओ हारे के सहारे,
तुझ बिन कौन सम्भाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले।।



काँटो भरी राहे,

चलना भी जो चाहे,
जीवन पथ पर,
खा रहा ठोकर,
गिरने से कौन बचाए,
कौन जो राह दिखाए,
दूर अँधियारा,
करो उजियारा,
भक्तो के रखवाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले।।



भाग्य विधाता हो तुम,

दर के भिखारी है हम,
‘रूबी रिधम’ तेरी,
शरण में आए,
तुझसे कहे रो रो के,
खा लिए बहुत ही धोखे,
सर को झुकाया,
चरणों में तेरे,
जग के पालनहारे,
तुझ बिन कौन सम्भाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले।।



तेरे भरोसे जीवन मेरा,

बाबा खाटू वाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले,
तुझ बिन कौन सम्भाले।।

Singer – Surendra Thakur


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम