सह लुंगी मै सारी जुदाई की रतियाँ अब ना करुँगी बिहारी

सह लुंगी मै सारी जुदाई की रतियाँ अब ना करुँगी बिहारी तोसे बतियाँ

सह लुंगी मै सारी जुदाई की रतियाँ, अब ना करुँगी बिहारी तोसे बतियाँ।। प्रीत लगाई और दिल शर्माया, बेदर्दी तू फिर भी नहीं …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे