जो तू मिटाना चाहे जीवन की तृष्णा अनूप जलोटा भजन लिरिक्स

जो तू मिटाना चाहे जीवन की तृष्णा अनूप जलोटा भजन लिरिक्स

जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा, जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा, सुबह शाम बोल बन्दे, कृष्णा कृष्णा कृष्णा, सुबह शाम …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे