खाटू का श्याम धणी हारे का सहारा है भजन लिरिक्स

स्वागतम !