श्री राम धुन में मन तू जब तक मगन ना होगा भजन लिरिक्स

श्री राम धुन में मन तू,
जब तक मगन ना होगा,
भव जाल छूटने का,
तब तक जतन ना होगा।।



व्यापार धन कमाकर,

तू लाख साज सजले,
होगा सुखी ना तब तक,
होगा सुखी ना तब तक,
संतोष धन ना होगा।

श्री राम धुन मे मन तू,
जब तक मगन ना होगा,
भव जाल छूटने का,
तब तक जतन ना होगा।।



तप यज्ञ होम पूजा,

व्रत और नैम कर ले,
सब व्यर्थ है जो मुख से,
सब व्यर्थ है जो मुख से,
हरी का भजन ना होगा।

श्री राम धुन मे मन तू,
जब तक मगन ना होगा,
भव जाल छूटने का,
तब तक जतन ना होगा।।



संसार की घटा से,

क्या प्यास बुझ सकेगी,
प्यासे ह्रदय को जब तक,
प्यासे ह्रदय को जब तक,
तेरा ना धन मिलेगा।

श्री राम धुन मे मन तू,
जब तक मगन ना होगा,
भव जाल छूटने का,
तब तक जतन ना होगा।।

Singer : Santosh Upadhyay


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

हे आनंदघन मंगलभवन नाथ अमंगलहारी भजन लिरिक्स

हे आनंदघन मंगलभवन नाथ अमंगलहारी भजन लिरिक्स

हे आनंदघन मंगलभवन, नाथ अमंगलहारी, हम आए शरण तुम्हारी, रघुवर कृपाल प्रभु प्रनतपाल, अब राखो लाज हमारी, हम आए शरण तुम्हारी, हे आनंद घन मंगल भवन, नाथ अमंगलहारी, हम आए…

अवध नगरीया में राम राज कब लाओगे भजन लिरिक्स

अवध नगरीया में राम राज कब लाओगे भजन लिरिक्स

अवध नगरीया में राम राज कब लाओगे, सूना है तेरा धाम राम कब आओगे, सूना है तेरा धाम राम कब आओगे।। तेरे भक्तो पे चलती है गोलिया, आके सब खेलते…

मन धीर धरो घबराओ नहीं श्री राम मिलेंगे कहीं ना कहीं

मन धीर धरो घबराओ नहीं श्री राम मिलेंगे कहीं ना कहीं

मन धीर धरो घबराओ नहीं, श्री राम मिलेंगे कहीं ना कहीं, भगवान मिलेंगे कहीं ना कहीं, श्री राम मिलेंगे कहीं ना कहीं, मन धीर धरों घबराओ नहीं, श्री राम मिलेंगे…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे