मिलना हमें तुमसे ये सोचके आए है भजन लिरिक्स

मिलना हमें तुमसे ये सोचके आए है भजन लिरिक्स

मिलना हमें तुमसे,
ये सोचके आए है,
खाली ना लौटाना,
विश्वास लाए है,
मेरे श्याम कृपानिधान,
सुनो घनश्याम मेरे श्याम।।

तर्ज – तुमसे जुदा होकर हमें।



जग के थपेड़ो ने चोट ऐसी मारी,

उजड़ने लगी है बाबा हस्ती हमारी,
हसना हमें बाबा,
बड़े दिन दुःख पाए है,
खाली ना लौटाना,
विश्वास लाए है,
मेरे श्याम कृपानिधान,
सुनो घनश्याम मेरे श्याम।।



तेरा नाम लेकर हम तो दर पे खड़े है,

हटेंगे नहीं हम बाबा जिद पर अड़े है,
गुथ्थी हर उलझन की,
सुलझाने आए है,
खाली ना लौटाना,
विश्वास लाए है,
मेरे श्याम कृपानिधान,
सुनो घनश्याम मेरे श्याम।।



कदम हर कदम पर आहत राहत नहीं है,

तेरी बनाई क्या वो दुनिया यही है,
हर घाव मरहम हम,
लगवाने आए है,
खाली ना लौटाना,
विश्वास लाए है,
मेरे श्याम कृपानिधान,
सुनो घनश्याम मेरे श्याम।।



नजर पड़ गई जो तेरी हम पर मुरारी,

मुश्किल विपत दुःख पीड़ा मिट जाए सारी,
‘गोलू’ जीवन तुझपे,
वार जाने आए है,
खाली ना लौटाना,
विश्वास लाए है,
मेरे श्याम कृपानिधान,
सुनो घनश्याम मेरे श्याम।।



मिलना हमें तुमसे,

ये सोचके आए है,
खाली ना लौटाना,
विश्वास लाए है,
मेरे श्याम कृपानिधान,
सुनो घनश्याम मेरे श्याम।।
Singer : Vivek Sharma


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें