मेरा बाबा श्याम सारे जग से निराला है भजन लिरिक्स

मेरा बाबा श्याम सारे जग से निराला है भजन लिरिक्स

मेरा बाबा श्याम,
सारे जग से निराला है,
खाटू वाला श्याम,
मेरा बाबा श्यामं,
सारे जग से निराला है,
ये लागे सबसे न्यारा है,
मेरा बाबा श्यामं।।

तर्ज – एक तेरा साथ हमको।



लटें है घुंघराली,

आँखें हैं कजरारी,
जरी का बाघा है,
होंठों पे है लाली,
सूरत है मतवाली,
गले में माला है,
इत्र की खुशबु से सारे,
भक्तों को महकता है,
ये जग से निराला है,
मेरा बाबा श्यामं,
सारे जग से निराला है,
खाटू वाला श्याम।।



तीन बाणधारी,

लीले का असवारी,
वचन का पक्का है,
ये कृष्ण अवतारी,
कलयुग का भवतारी,
हारे का साथी है,
भजनो की सरिता,
में अपने भक्तों को नहलाता है,
ये जग से निराला है,
मेरा बाबा श्यामं,
सारे जग से निराला है,
खाटू वाला श्याम।।



बिना कहे ही ये,

फरियाद सुनता है,
ये ऐसा दाता है,
भक्तों के कष्टों को,
ये भांप लेता है,
ये ऐसा स्वामी है,
हम सबके जीवन,
पथ पर से काँटों को हटाता है,
ये जग से निराला है,
मेरा बाबा श्यामं,
सारे जग से निराला है,
खाटू वाला श्याम।।



मेरा बाबा श्याम,

सारे जग से निराला है,
खाटू वाला श्याम,
मेरा बाबा श्यामं,
सारे जग से निराला है,
ये लागे सबसे न्यारा है,
मेरा बाबा श्यामं।।

Singer – Chandra Mohan Garg


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें