केसर वाली जोता या बिलाड़ा माई सोवणी आई माता भजन

केसर वाली जोता या बिलाड़ा माई सोवणी आई माता भजन
राजस्थानी भजन
....इस भजन को शेयर करें....

केसर वाली जोता या,
बिलाड़ा माई सोवणी,
अररर चालो रे,
बिलाड़ा आई धाम में।।



भादरवा री बीज रो,

आई जी रो मेलो लागेरे,
बीलाड़ा मे मन्दिर बणीयो,
सोवणो ओ लागेरे,
अररर चालो रे,
बिलाड़ा आई धाम में।।



आई माता रा दरशण करवा,

भक्त आवे जोर रा,
पाला सडीया आवे गाडी,
धजा लावे जोर री,
अररर चालो रे,
बिलाड़ा आई धाम में।।



अगीयारा गाठारो मईया,

डोरो थे बदायो जी,
नर ने नारी ने मईया,
धर्म बतायो जी,
जीणरी करो थे साय,
बेड़ो पार हो जासी।।



जीवण सा सीरवी मईया,

बिलाड़ा मे रेवता,
घर सो गरीब मईया,
अन कोने रेवतो,
माधू सा मिलाया रे,
बिलाड़ा आई धाम में।।



जगदीश प्रजापत मईया,

भजन बणावतो,
रामु रमेश हितेश ईदर,
सरणा मे आवता,
अररर गावे रे,
जगदीश सरणा मायने,
अररर गावे रे,
परमेशवरी सरणा मायने।।



केसर वाली जोता या,

बिलाड़ा माई सोवणी,
अररर चालो रे,
बिलाड़ा आई धाम में।।

– प्रेषक एवं गायक –
जगदीश प्रजापत
9701255880



....इस भजन को शेयर करें....

2 thoughts on “केसर वाली जोता या बिलाड़ा माई सोवणी आई माता भजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।