जबसे बरसाने में आई मैं बड़ी मस्ती में हूँ भजन लिरिक्स

0
1952
बार देखा गया
जबसे बरसाने में आई मैं बड़ी मस्ती में हूँ भजन लिरिक्स

जबसे बरसाने में आई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
जब से तुम संग लौ लगाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ।।

तर्ज – दिल से दिल भरकर ना देखि।



छा गई आँखों में दिल में,

बस तेरी दीवानगी,
छा गई आँखों में दिल में,
बस तेरी दीवानगी,
तू ही तू बस दे दिखाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
जब से तुम संग लो लगाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ।।



ना तमन्ना दौलतों की,

शोहरतों की लाड़ली,
ना तमन्ना दौलतों की,
शोहरतों की लाड़ली,
नाम की करके कमाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
जब से तुम संग लो लगाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ।।



बांकी चितवन सांवरी,

मन मोहनी सूरत तेरी,
बांकी चितवन सांवरी,
मन मोहनी सूरत तेरी,
जबसे है दिल में समाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
जब से तुम संग लो लगाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ।।



जबसे बरसाने में आई,

मैं बड़ी मस्ती में हूँ,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
मैं बड़ी मस्ती में श्यामा,
जब से तुम संग लौ लगाई,
मैं बड़ी मस्ती में हूँ।।

Singer : Sadhvi Poonam Didi


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम