आई फागण की ग्यारस आपा पैदल चाला रे खाटू श्याम जी भजन

आई फागण की ग्यारस आपा पैदल चालां ला रे खाटू श्याम जी भजन
कृष्ण भजनराजस्थानी भजन
....इस भजन को शेयर करें....

आई फागण की ग्यारस,
आपा पैदल चालां ला रे,
खाटू श्याम जी,
हारे का सहारो म्हारो,
लखदातार खाटू श्याम जी,
आई फागण की ग्यारस,
आपा पैदल चालां ला रे,
खाटू श्याम जी।।



अहलवती को कंवर लाडलो,

भगता को रखवालो है,
तीन बाण धारी मारो बाबो,
लीले घोड़े वालो है,
दीन दुखिया रो बाबो,
करे बेड़ो पार,
खाटू श्याम जी,
आयी फागण की ग्यारस,
आपा पैदल चालां ला रे,
खाटू श्याम जी।।



कलयुग में हो बाबा थारो,

पर्चो हद भारी है,
तू ही म्हारो कृष्ण कन्हैयो,
बण आयो अवतारी है,
जो कोई साचे मन सु ध्यावे,
बेड़ो कर दे पार,
खाटू श्यामजी,
आयी फागण की ग्यारस,
आपा पैदल चालां ला रे,
खाटू श्याम जी।।



खाटू माहि विराजे बाबो,

सब का कष्ट मिटावे है,
भक्त मंडल चरणों में बाबा,
आकर शीश नवावे है,
‘लोचन’ की अर्जी सुन लीजो,
करजो बेड़ो पार,
खाटू श्याम जी,
आयी फागण की ग्यारस,
आपा पैदल चालां ला रे,
खाटू श्याम जी।।



गायक- श्री सम्पत दाधीच

संपर्क – 9828065814

यह भजन भजन डायरी ऍप द्वारा,
द्वारा जोड़ा गया।
आप भी अपना भजन जोड़ सकते है।



....इस भजन को शेयर करें....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।