बंसी बजा के मेरी निंदिया चुराई भजन लिरिक्स

बंसी बजा के मेरी निंदिया चुराई भजन लिरिक्स

बंसी बजा के मेरी निंदिया चुराई, लाडला कन्हैया मेरा कृष्ण कन्हाई, कुञ्ज गली में ढूंढें तुम्हे राधा प्यारी, कहाँ गिरधारी मेरे कहाँ गिरधारी।।  आँख मिचौली काहे खेले तु कान्हा, पलके बिछाए बैठी तेरी में राधा, काश में तेरी बन जाती बंसुरिया, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे