देख सकता है श्याम कुछ भी होते हुए भजन लिरिक्स

देख सकता है श्याम कुछ भी होते हुए भजन लिरिक्स

आंसुओ से पिघलता मेरा श्याम है, देख सकता है श्याम कुछ भी होते हुए, नही ये नही देख सकता हमें रोते हुए, नही …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे