लीनो ताँबा रो बेड़ो हाथ मीराबाई चाली पानी ने हो जी

लीनो ताँबा रो बेड़ो हाथ मीराबाई चाली पानी ने हो जी

लीनो ताँबा रो बेड़ो हाथ मीराबाई, दोहा – लकड़ी जली कोयला भई, ने कोयला जल भई राख, मैं विरहन ऐसी जली, न कोयला …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे