भोले बाबा की गौरा बनी रे जोगनिया भजन लिरिक्स

भोले बाबा की गौरा बनी रे जोगनिया भजन लिरिक्स

भोले बाबा की गौरा बनी रे जोगनिया, प्यासे पिया को लेने चली पनिया, गौरा बनी रे जोगनिया, भोले बाबा की गौरा बनी रे जोगनिया।। चलते चलते मन गौरा का, यहाँ वहाँ था डोला रे, शिव शंकर से मन ही मन …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे