नंदी पे बिठा के तू घूमा दे भोले जोगिया भजन लिरिक्स

नंदी पे बैठा के तू घूमा दे भोले जोगिया भजन लिरिक्स

नंदी पे बिठा के तू, घूमा दे भोले जोगिया, देखूं सारा संसार, चले पर्वत के उस पार, दुनिया देखन दे देखन दे, कलयुग का ये दौर, गौरा बदली सारी दुनिया, बड़ा स्वार्थी संसार, वहां जाना है बेकार, तप कर लेन …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे