घुड़लो मोड़ दो सावरियाँ थारो भगता री ओर भजन लिरिक्स

घुड़लो मोड़ दो सावरियाँ थारो भगता री ओर भजन लिरिक्स

घुड़लो मोड़ दो सावरियाँ, थारो भगता री ओर, थारा टाबरिया बुलावे बाबा, आवो म्हारी ओर।। खेचलो नकेल थारे, घोड़ले री सावराँ, कोई ढीला छोड्या थाने, लेजासी कथे ओर, थारा टाबरिया बुलावे बाबा, आवो म्हारी ओर।। म्हे कद स्यू अरजी किन्ही, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे