गौरा बिहाने आए है भोलेनाथ जी भजन लिरिक्स

गौरा बिहाने आए है भोलेनाथ जी भजन लिरिक्स

अजब अनोखा करके श्रृंगार, होकर नंदी पर वो सवार, गौरा बिहाने आए है भोलेनाथ जी, गौरा बिहाने आए हैं भोलेनाथ जी।। तर्ज – आने से उसके आए बहार। देवगण बाराती, ब्रम्हा विष्णु भी है साथ आए, देवियाँ भी मिलकर, शोभा …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे