Tag: सोच समझकर चाल मन मूरख जग में जीना थोड़ा रे

राजस्थानी भजन

सोच समझकर चाल मन मूरख जग में जीना थोड़ा रे

सोच समझकर चाल मन मूरख, जग में जीना थोड़ा रे, जग में जीना थोड़ा बंदे, जग में जीना थोड़ा रे, […]

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे