मैं तो आरती उतारूँ रे श्री राधा रसिक बिहारी की लिरिक्स

स्वागतम !