मनिहारी का भेष बनाया भजन लिरिक्स

मनिहारी का भेष बनाया भजन लिरिक्स

मनिहारी का भेष बनाया, श्याम चूड़ी बेचने आया, छलिया का भेष बनाया, श्याम चूड़ी बेचने आया।। झोली कंधे धरी, उस में चूड़ी भरी, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे